आपका महंगा स्मार्टफोन आपको बीमार कर सकता है और आपको पता भी नहीं चलेगा|

 

मोबाइल एक ऐसी चीज जिसे हमने अपने जीवन में कुछ इस कदर शामिल कर लिया है| जिसके बिना जीना नामुमकिन सा हो गया है|यहा तक की एक छोटा बच्चा भी इससे ग्रसित हो चूका है|और इसके जिम्मेदार कही न कही हम ही है|सुबह उठ कर मुह धोने की बजह हम फ़ोन चेक करते है|जैसे पता नही वो रात जो  सो के गुजार दी कितना नुकसान हो गया हो|कुछ तो इस रात को भी नही छोड़ते सबको सुलायेंगे सुबह फिर गुड मोर्निंग बोलकर सबको उठाएंगे मानो आदमी नही एक डिजिटल मुर्गा हो|पर हम लोग ये कभी नही सोचते के मोबाइल कही हमे बीमार तो नही कर रहा|इसका इतना जाएदा इस्तमाल कही कुछ नुकसान तो नही कर रहा|तो चलिए आज आपको इसी के बारे में बताते है|

 



 

मोबाइल का जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल आपको शारीरिक एवं मानसिक रूप से बीमार बना सकता है|हाल ही में हुई स्टडी से पता चला है कि मोबाइल का हद से ज्यादा इस्तेमाल कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी का कारण भी बन सकता है|अगर आप अपने महंगे स्मार्ट फोन का इस्तेमाल जरूरत से ज्यादा करते हैं तो सावधान हो जाइए क्योंकि ये आपको बीमार, बहुत बीमार कर सकता है| ज्यादा मोबाइलफोन के इस्तेमाल से आपकी सेहत भी बिगड़ सकती है|खाते वक्त हाथ में मोबाइल, कहीं जाते वक्त हाथ में मोबाइल, सोते वक्त हाथ में मोबाइल, आप कहीं भी क्यों न हों, कोई भी काम कर रहे हों, आपका मोबाइल आपके हाथों से दूर नहीं होता|

 

ये भी पढ़े-शराब पीने के बाद लोग अजीब हरकते क्यों करते है? आइये जानते है इसके बारे में|

 




 

ये भी पढ़े –हम क्यों फिसल जाते है बर्फ के ऊपर| आइये जानते है इसके पीछे का कारण|

कई अध्ययनों से पता चला है कि मोबाइल फोन के अधिक इस्तेमाल से नींद से संबंधित समस्याएं पैदा हो सकती हैं|देर रात तक फोन पर बातें करने से व्यक्ति को स्लीप डिसऑर्डर जैसी समस्या हो सकती है| फोन से कई ऐसी रेडिएशन निकलती हैं जो शरीर के लिए नुकसानदायक होती हैं| यूरोपियन जर्नल ऑफ ऑन्कोलॉजी में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार मोबाइल और कॉर्डलेस फोन द्वारा निकलने वाली रेडिएशन हृदय के कार्यप्रणाली में असामान्यता और बाधा उत्पन्न करती हैं|ए क अध्ययन में कहा गया है कि रोजाना लगभग दो घंटे से अधिक फोन पर बात करने वाले लोगों को कम सुनाई देने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है|

 




 

ज्यादातर लोग ई-बुक्स पढ़ने, वेब सर्फिंग आदि के लिए मोबाइल का उपयोग करते हैं| विशेष रूप से जब आप अंधेरे में मोबाइल की चमकदार स्क्रीन पर छोटे फॉन्ट्स बिना पलक झपकाए पढ़ रहे होते हैं, तो मोबाइल से निकलने वाली रेडिएशन आपकी आंखों को लाल कर देने के साथ उनमें जलन भी पैदा करती हैं|इससे धीरे-धीरे आंखें कमजोर होने लगती हैं|

 

तो ये था आज का पोस्ट आपके लिए उम्मीद करते है आपको पसंद आएगा|

error: Content is protected !!