लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी को हृदयघात, हालत में आंशिक सुधार

 

उत्तराखंड के प्रसिद्ध लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी को बुधवार को हृदयघात पड़ने  के कारण सीएमआई अस्पताल ले जाया गया। देर रात हालत बिगड़ने पर चिकित्सकों ने उन्हें मैक्स अस्पताल रेफर कर दिया। देर रात तक उनकी हालत नाजुक बनी हुई थी। सुबह उनकी हालत में कुछ आंशिक सुधार बताया गया। 
लोकगायक नरेंद्र सिंह के बेटे कविलाश नेगी ने बताया कि उनके पिता की तबीयत में अब लगभग 15 से बीस फीसद सुधार है। डाक्टरों ने बताया है कि उन्हें अभी तीन दिन और देखरेख में रखा जाएगा। अस्पताल प्रशासन के के अनुसार उन्हें जीवन रक्षा प्रणाली पर रखा गया है।
इससे पहले मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत व पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सीएमआइ पहुंच उनका हाल जाना। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र उनके परिवार को अपने वाहन से मैक्स अस्पताल लेकर पहुंचे। चिकित्सकों ने बताया कि श्री नेगी को आर्टिलरी ब्लॉकेज (सौ फीसद ब्लॉकेज) है।

समूचे उत्तराखंडवासी उनके शीघ्र स्वस्थ होने की दुआ कर रहे हैं। उनके करीबी कवि एवं साहित्यकार मदन मोहन डुकलान व लोकगायक प्रीतम भरतवाण समेत बड़ी संख्या में रंगकर्मियों, साहित्यकार और संस्कृति जगत से जुड़ी हस्तियों का मैक्स अस्पताल में जमावड़ा लगा रहा। 
लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी पिछले कुछ दिन से स्वयं को असहज महसूस कर रहे थे। उन्हें पेट के साथ ही सीने में हल्का दर्द था, लेकिन बुधवार को हालत बिगडऩे पर उन्हें सीएमआइ अस्पताल भर्ती कराया गया। सूचना पर मुख्यमंत्री, पूर्व मुख्यमंत्री समेत केदारनाथ विधायक मनोज रावत व लोग गायक प्रीतम भरतवाण उन्हें देखने सीएमआइ पहुंचे।
परिजनों ने बताया कि सोमवार को उनका पौड़ी के बीरोंखाल में कार्यक्रम था। जहां से लौटने के बाद बुधवार दोपहर उनकी तबीयत बिगड़ गई। सीएमआइ के निदेशक डॉ. आरके जैन ने बताया कि नेगी की तबीयत नाजुक है और उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. जगजीत सिंह की देखरेख में तीन सदस्यीय टीम की देखरेख में उनकी एनजियोग्राफी की गई।

उसके बाद देर रात उन्हें मैक्स अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। मैक्स अस्पताल प्रशासन के अनुसार आर्टिलरी ब्लाकेज के कारण उनके फेफड़ों में पानी भर गया है। जिससे सांस लेने में दिक्कत हो रही है।


फिलहाल उन्हें जीवन रक्षा प्रणाली में रखा गया है। नेगी की तबीयत बिगडऩे की सूचना पर अस्पताल में उनके प्रशंसकों का तांता लग गया।
लोकगायक नेगी के साथ अस्पताल में उनकी पत्नी उषा नेगी, बेटा कविलाश नेगी और बहू मौजूद हैं। उनकी पत्नी को कुछ अस्वस्थता महसूस होने के कारण सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत उन्हें स्वयं अपने साथ मैक्स अस्पताल लेकर गए और परिजनों के साथ अस्पताल में देर रात तक रहे। परिजनों के मुताबिक, दो दिन पहले कार्यक्रम के दौरान उन्हें सीने में दर्द हुआ था, लेकिन उन्होंने इसे एसीडिटी मानकर हल्के में ले लिया।
चिकित्सकों की मानें तो संभवत: यह सूक्ष्म हृदयघात रहा होगा, जो बुधवार को बड़े हृदयघात में बदल गया। देर रात तक उनकी हालत स्थिर बनी हुई थी। अस्पताल प्रशासन के मुताबिक नेगी को चौबीस घंटे के लिए चिकित्सकों की देखरेख में आइसीयू में रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!