Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

होली के दिन लगता सबको है रंग |पर उसी रंग को उतारने के लिए नही लड़नी पड़ेगी इस बारी अपने चेहरे के साथ जंग |

 

हमारे सभी पाठको को होली की अग्रिम बधाई | हमारे पुरे भारत  यह रंगों का त्यौहार बड़ी उत्सुकता साथ मनाया जाता है| सभी लोग रंग बिरंगे होकर घूमते है गुजिया के मजे लेते है| पर हम सब लोग जानते है ये त्यौहार जितना मस्ती लाता है उतनी ही चिंता भी | आजकल मार्किट में जितने भी रंग आते है सारे केमिकल मिले हुवे| उनसे आपकी तवचा को बहुत नुकसान होता है| और ये रंग जल्दी से उतरते भी नही है कितना भी जोर लगा लो कमसेकम एक दो दिन तक तो आपका चहरा होली के दिन जैसा रहता ही है|तो चलिए आज आपको इन रंगों को जल्दी से उतारने का तरीका बताये|

holi

आज-कल लोग रंग डलवाने से डरते हैं इसके साथ ही दूसरा रंग डलवाने का कारण और भी हैं कि मार्केट में जो रंग उपलब्ध होते हैं उनमें बहुत अधित मात्रा में रासायनिक मिला रहता है। जिससे रंग आसानी से निकलते नहीं है और वह हमारी त्वचा के लिए भी बहुत ही हानिकारक होते हैं। ऐसे रंगों से हमे बचने की जरूरत है लेकिन फिर भी जान लेते हैं रंगों से बचाव के तरीके उसे कैसे छुड़ाया जाये-

 

ये भी पढ़े-हस्ते हस्ते लोट पोट हो जाओगे इन भोजपुरी फिल्मो के नाम पढ़ के

 

होली के रंगों से बचाव –

  • होली के रंग पूरे शरीर पर न लगे इसके लिए फुल कपड़े पहनें।
  • होली के कलर आसानी से छूट जाएं इसके लिए आप चेहरे पर, बालों पर एवं पूरा शरीर पर बॉडी लोशन या नारियल तेल को लगाएं।
  • होली खेलने के तुरंत बाद शरीर से रंग को धोकर निकाल देना चाहिए।
  • यदि आंखों में रंग या गुलाल गिर जाये तो तुरंत ठंडे पाने से धोएं यहां ध्यान दें कि आंखों को ज्यादा रगड़े नहीं। इससे जलन होगी, यदि जलन हो तो आंखों में गुलाब जल डालें इसे आराम मिलेगा।

होली के रंग छुटाने के तरीके-

 

 

ये भी पढ़े-जाने विश्वविख्यात उत्तराखंड के चार धामों के बारे में

 

  • होली खेलने के बाद सबसे पहले अपने हाथों को अच्छी तरह धुलकर कलर को निकालें।

 

  • जब आप होली खेल लें इसके बाद मुल्तानी मिट्टी का उपयोग नहाने के लिए कर सकते हैं। अपने शरीर पर भिगोई हुई मुल्तानी मिट्टी लगाकर थोड़ी देर सूखने दें। इसके बाद उसे धुल लें इससे रंग छुड़ाने में मदद मिलेगी।

 

  • रंग छुड़ाने के लिए कैला लें और उसे मैश करके उसमें नींबू का रस मिलाएं। इससे त्वचा पर लगाकर कुछ देर के लिए छोड़ दें, सूखने के बाद पानी के छींटे मारकर इसे निकालें। ऐसा करने से त्वचा पर लगा रंग निकल जायेगा साथ ही त्वचा नमी भी नहीं खोएगी।

 

  • रंगों को छुड़ाने के लिए बेसन, मीठा तेल व मलाई को पानी में मिलाकर पेस्ट बनाकर तैयार कर लें। इसके बाद शरीर में लगाकर कुछ देर के लिए छोड़ दें। जब सूख जाए तो पानी के छींटे मारकर उसे धुल लें।

 

ये भी पढ़े-दुनिया के सबसे अमीर लोग (2017)

 

  • होली पर तरह –तरह के रासायनिकयुक्त रंगों का उपयोग किया जाते हैं यदि किसी ने आपके ऊपर भी कोई रासायनिक पदार्थ मिला हुआ कलर लगा दिया हैं और वह निकल नहीं रहा है तो एक कपड़े पर मिट्टी का तेल (केरोसिन) में भिंगोकर रंग लगी त्वचा पर धीर-धीरे हाथ से मसलें। इससे रंग काफी हद तक छूट जायेगा। ध्यान देने की जरूरत हैं साधारण रंगों के लिए केरोसिन का उपयोग न करें

 

  • मूली का रस, दूध व बेसन या मैदे कापेस्ट बना लें और उसे चेहरे पर लगाएं। इससे भी रंग साफ हो सकता है।

 

  • खीरे का रस, गुलाब जल और एक चम्मच सिरका पाउडर का पेस्ट बना लें और इससे मुंह धोएं। इससे रंग तो साफ होगा ही त्वचा भी खिल उठेगी।

 

बालों से रंग छुड़ाने के तरीके-

 

 

  • बालों का रंग निकालने के लिए दही में बेसन और नीबू का रस मिलाकर सिर की मसाज करें या फिर शैंम्पू से बालों को धुल लें।

 

ये भी पढ़े-देखी है कभी ऐसी गुफा जिसमे है पूरा जंगल

 

  • बालों से रंग छुड़ाने का एक तरीका यह भी है कि बालों पर अंडे को लगाकर करीब 30 मिनट के लिए छोड़ दें इसके बाद शैम्पू से धुल लें। इससे बाल मजबूद और सिल्की होते हैं एवं रंग भी छूट जाता है।

तो ये थी जानकारी आपके लिए होली के रंगों को उतारने के बारे में| और हा दोस्तों कोशिश कीजियेगा की सिर्फ नार्मल गुलाल से ही होली का आनंद ले|

आपको और आपके परिवार को गजब चीज परिवार की तरफ से होली की बहुत बहुत बधाई|

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!